नागपुर: हर माह होने वाला 4 हजार करोड़ रुपए का कारोबार त्योहार में बढ़ जाता है

September 15th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गणेश चतुर्थी के साथ ही त्योहारी सीजन का श्रीगणेश हो जाता है, जो दिवाली तक चलता है। करीब दो माह का यह त्योहारी सीजन कारोबार और अर्थव्यवस्था के लिए सबसे अहम साबित होता है, जब औसतन हर माह होनेवाला करीब 4 हजार करोड़ का कारोबार बढ़कर 6 हजार करोड़ काे भी पार कर जाता है। वहीं मोबाइल, कार के साथ होम एप्लायंस कैटेगरी की सामग्री जैसे फ्रिज, टीवी, वाशिंग मशीन, बर्तन आदि की खरीद का सालभर का 40 फीसदी केवल इसी दौरान होता है।

रियल एस्टेट

त्योहारी सीजन में सालभर की 30-40 फीसदी बुकिंग अभी होती है। हालांकि रजिस्ट्री साल के अंत में बैंक लोन मंजूर होने के बाद या शासन द्वारा पंजीयन शुल्क में दी जाने वाली छूट के आधार पर होती है। लगभग तीन हजार करोड़ की प्रॉपर्टी के सौदे इन दो माह में होते हैं।

कार

ऑटो सेक्टर में हर माह औसतन 1200 कार बिकती हैं, लेकिन इस दौरान आंकड़ा 2000 के करीब पहुंच जाता है। मतलब आम दिनों के मुकाबले लगभग डेढ़ गुना से ज्यादा। 
होम अप्लायंस

इससे और कार से ही सबसे ज्यादा टैक्स सरकार को मिलता है। इसमें फ्रिज, टीवी, म्यूजिक सिस्टम, वाशिंग मशीन जैसी घरेल उपयोग की सामग्री रहती है। साल भर की 40 फीसदी खरीदी त्योहारो सीजन के इन्हीं दो महीने में होती है।

गैजेट्स मोबाइल

यह सेक्टर बीते तीन-चार सालों से सबसे तेजी से बढ़ा है। मोबाइल, लैपटॉप के साथ ही स्मार्ट वॉच, ईयर फोन आदि शामिल हैं।

कपड़ा-फुटवियर

इनकी खरीद का पुरातन रिवाज है। गणेश चतुर्थी के साथ इसमें तेजी आती है और फिर शादियों के सीजन शुरू हो जाते हैं।

खबरें और भी हैं...