danik bhaskar
Wednesday, 29 March, 2017
Updated

भोपाल : दीपावली की रात स्टूडेंट इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया(SIMI) के 8 आतंकी भोपाल सेंट्रल जेल की दीवार फांदकर फरार हो गए हैं। इसके पहले उन्होंने जेल के हेड कांस्टेबल रमाशंकर की गला रेतकर हत्या कर दी और जेल में दी जाने वाली चद्दरों की रस्सी बनाकर दीवाल फांदकर भाग गए। सभी आतंकी आतंकवाद फैलाने में दोषी सिद्ध हो चुके थे और जेल में सजा काट रहे थे। इन पर देशद्रोह का मुकदमा चल रहा था।

इस बीच मध्यप्रदेश के होम मिनिस्टर भूपेंद्र सिंह ने कहा "जेल प्रबंधन की गलती की वजह से यह हुआ है। पांच अफसरों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। सुबह 4.30 बजे हमें घटना की सूचना मिली थी जिसके बाद केंद्र और आसपास के राज्यों के अलर्ट मोड पर रख दिया गया है। अभी हमारा सारा ध्यान आतंकियों को पकड़ने पर है। किसकी मिलीभगत है या लापरवाही है इस विजन से भी घटना की बाद में जांच कराई जाएगी।'

गौरतलब है कि इसके पहले खंडवा जेल से 2 अक्टूबर 2013 को सिमी के आतंकी अबू फैजल खान, एजाजुद्दीन अजीजुद्दीन, असलम अय्यूब, अमजद, जाकिर, शेख महबूब और आबिद मिर्जा फरार हो गए थे। खंडवा में ये आतंकी जेल के बाथरूम की दीवार तोड़कर फरार हुए थे। इसके बाद प्रदेश भर के 30 सिमी आतंकवादियों के एक ही जगह भोपाल सेंट्रल जेल में ट्रांसफर किया गया था। इन्हीं में से 8 आतंकी फरार हो गए हैं।

danik bhaskar