danik bhaskar
Tuesday, 28 March, 2017
Updated

नागपुर: महाराष्ट्र के जेल विभाग में वरिष्ठ पदों पर तैनात कई अधिकारी एमपीएससी की परीक्षा में 7 बार से भी ज्यादा बार फेल पाये गए हैं। धुले से भाजपा विधायक अनिल गोटे ने आरटीआई के तहत हासिल की गई जानकारी के आधार इस तथ्य का खुलासा किया है। उन्होंने अब जांच की भी मांग की है। बड़ी बात यह है कि ऐसे फैलियर होने के बाद भी एमपीएससी परीक्षा पास करने वाले अधिकारी इनके अधीन काम कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने भी अब इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं।

गोटे ने मुख्यमंत्री को उन 27 जेल अधिकारियों की सूची भी सौंपी है, जिनको एमपीएससी परीक्षा पास न होने के बावजूद पदोन्नति दी गई है। इनमें 3 अधिकारी 5 बार, 11 अधिकारी 3 तीन बार, 9 अधिकारी, 4 बार और एक-एक अधिकारी 6 और 7 बार एमपीएससी परीक्षा में फेल हो चुके हैं।

गोटे ने बताया कि एमपीएससी की परीक्षा में फेल होने वाले ये अधिकारी पदोन्नति हासिल कर क्लास वन के अधिकारी बन गए हैं। जबकि वर्ग-1 श्रेणी में पदोन्नति के लिए एमपीएससी परीक्षा पास करना आवश्यक है।

danik bhaskar