danik bhaskar
Monday, 23 January, 2017
Updated

मुंबई. अश्लीलता फैलाने व दहेज प्रताड़ना के विवादों में घिरी राधे मां पर अब बॉम्बे हाईकोर्ट में सेक्शुअल हैरेसमेंट के आरोप लगे है। साथ ही दावा किया गया है कि राधे मां लड़के-लड़कियों को गुमराह कर आशीर्वाद देने के नाम पर पर्सनल रूम में ले जाती है और सेक्स के लिए मजबूर करती है। सोमवार को जज वीएम कानडे व जज शालिनी फनसालकर जोशी की बेंच ने इन आरोपों को जानने के बाद सरकार को विस्तार से एफिडेविट दायर करने का ऑर्डर दिया है। जजों की बेंच ने यह ऑर्डर वकील फाल्गुनी ब्रह्मभट्ट की ओर से दायर जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान दिया। याचिका में पुलिस के ढीले रवैये को भी निशाने पर लिया गया है।
 

danik bhaskar