danik bhaskar
Thursday, 23 February, 2017
Updated

भोपाल: उत्तर भारत से आ रही सर्द हवाओं के कमजोर पड़ने से पिछले 2 दिनों से मध्यप्रदेश में ठंड से हल्की राहत महसूस हुई है। लेकिन पूर्वोत्तर क्षेत्रों में अभी भी कुछ हिस्सों में शीतलहर चलने से पारे में मामूली परिवर्तन हुआ है। इस बीच रीवा प्रदेश का सबसे ठंडा नगर रहा, जहां पारा 5 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश का मौसम शुष्क रहा। न्यूनतम तापमान इंदौर, उज्जैन और चंबल संभागों में बढ़ा तथा शेष संभागों में मामूली परिवर्तन हुआ। चंबल में सामान्य से काफी अधिक तथा होशंगाबाद और इंदौर संभाग में सामान्य से कम तथा शेष संभागों में सामान्य रहा। विभाग ने रीवा और शहडोल संभागों के कुछ हिस्सों में आगामी चौबीस घंटे के दौरान शीतलहर चलने तथा रीवा और उमरिया जिलों के कुछ क्षेत्रों में पाला पड़ने की चेतावनी दी है। 

इसके अलावा चंबल, ग्वालियर और जबलपुर संभागों के कुछ हिस्सों तथा दतिया, टीकमगढ, छतरपुर और डिंडोरी जिलों में कहीं-कहीं हल्का कोहरा पड़ने की संभावना जताई। आगामी 48 घंटों के दौरान प्रदेश के मौसम में विशेष बदलाव देखने को नहीं मिलेगा। राजधानी भोपाल तथा उसके आसपास के नगरों में आगामी 24 घंटे के दौरान मौसम शुष्क रहेगा और आकाश साफ रहेगा। हवाएं लगभग 12 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलती रहेगी। नगर में सुबह से धूप खिली रही और दोपहर बाद तेज धूप के चलते लोगों ने मौसम में हल्की गरमाहट महसूस की।
danik bhaskar