danik bhaskar
Monday, 23 January, 2017
Updated

छिंदवाड़ा: मध्यप्रदेश के छिंदवाडा के पश्चिम वन मंडल (परासिया वन क्षेत्र) में विगत एक सप्ताह से सतपुडा बफर जोन से निकला एक बाघ भ्रमण कर रहा है। बाघ आज प्रात: परासिया तहसील के जाटा छापर रमपुरी वाटर फिल्टर प्लांट के ग्रामवासियों को बैठा दिखाई दिया था। किंतु वन विभाग की टीम पर वहां पहुचने के पहिले ही वह वन क्षेत्र में ओझल हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले की सांवरी व परासिया वन परिक्षेत्रों में विगत एक सप्ताह से किसी वन प्राणी के आगमन व पालतू जानवरों के शिकार करने की सूचना ग्रामीणों द्वारा वन कर्मियों को दी जा रही थी। मंगलवार को सतपुडा टाइगर रिजर्व के विशेषज्ञ व एस डी ओ पंचमढी संजीव शर्मा ने विचरण क्षेत्रों का निरीक्षण करने पर पगमार्क को देखने के बाद उक्त वन प्राणी के बाघ होने की पुष्टि की। श्री शर्मा ने संभावना जताई कि बाघ बफर जोन से निकल कर महुआ लहगडुआ तामिया के जंगल से होकर सांवरी परासिया के वन क्षेत्रो में आया है। बाघ रोज लगभग 50 कि,मी, क्षेत्र का भ्रमण कर रहा है। बाघ ने विगत 48 घंटे में तीन मवेशियो का शिकार भी किया है। वन विभाग के सूत्रों ने बताया कि बाघ की सुरक्षा के लिए वन विभाग की टीम लगातार सर्चिंग कर रही है।

danik bhaskar