danik bhaskar
Monday, 20 February, 2017
Updated

नई दिल्ली: केन्द्र सरकार छत्तीसगढ़ में दूरसंचार क्षेत्र में विस्तार के अहम कदम उठाते हुए राज्य की 10,000 ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा से जोड़ेगी और बस्तर के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भारत संचार निगम लिमिटेड(BSNL) के टॉवरों की संख्या बढ़ाएगी। इसके साथ ही राज्य की नई राजधानी नया रायपुर में 70 एकड़ क्षेत्र में बनने वाले इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफैक्चरिंग क्लस्टर के लिए केंद्र इसी सप्ताह अंतिम स्वीकृति देने जा रहा है।
केन्द्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के साथ हुई बैठक में यह आश्वासन दिया। बैठक में मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह और नया रायपुर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रजत कुमार भी उपस्थित थे। बैठक में मुख्यमंत्री ने बताया कि नया रायपुर के इस इलेक्ट्रॉनिक मैन्यूफेक्चरिंग क्लस्टर के लिए 11 कंपनियों ने 968 करोड़ रुपये के सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किये है। राज्य सरकार ने अपनी तैयारियां पूरी कर ली है। केन्द्र सरकार की अंतिम स्वीकृति मिलते ही कार्य प्रारंभ कर दिया जायेगा।
डॉ. सिंह ने बताया कि भारत नेट प्रोजेक्ट के तहत देश में छत्तीसगढ़ ने सबसे पहले नेशनल ऑप्टिकल फायबर नेटवर्क की स्थापना पर अपनी सहमति प्रदान की और इस दिशा में एसपीवी बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी है। उन्होंने बताया कि अगले 3 वर्षो में राज्य की 10 हजार ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड सुविधा से जोड़ दिया जाएगा। उन्होंने केन्द्रीय मंत्री से आग्रह किया कि छत्तीसगढ़ की विशिष्ट भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए राज्य को इस महत्वपूर्ण योजना को सफलतापूर्वक क्रियान्वित करने के लिए विशेष प्रशासनिक और वित्तीय लचीलापन प्रदान किया जाये।

danik bhaskar