danik bhaskar
Monday, 23 January, 2017
Updated

रायपुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के परिचालनिक अभियानों की प्रशंसा करते हुए कहा कि सबके समन्वित प्रयासों से जल्द ही यह प्रदेश नक्सलवाद की समस्या से मुक्त होगा। डा.सिंह ने आज यहां सीआरपीएफ अधिकारियों के दो दिवसीय सम्मेलन का शुभारंभ करते हुए यह उद्गार व्यक्त किया। डॉ.सिंह ने इस अवसर पर सीआरपीएफ छत्तीसगढ़ सेक्टर के प्रतीक चिन्ह का अनावरण भी किया। सम्मेलन में राज्य सरकार के मुख्य सचिव विवेक ढांड, पुलिस महानिदेशक एएन उपाध्याय और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह भी उपस्थित थे। सीआरपीएफ अधिकारियों ने सम्मेलन में प्रस्तुतिकरण के जरिए बताया कि छत्तीसगढ़ में तैनात पुलिस बल के बीत रहे वर्ष 15 के अभियानों की समीक्षा करने और आगामी वर्ष 16 में इसे प्रभावकारी बनाने के विषयों पर विचार-विमर्श कर प्रभावी रणनीति बनाने के लिए इस सम्मेलन का आयोजन किया गया है। इस मौके पर सीआरपीएफ के मध्य जोन के विशेष महानिदेशक दुर्गा प्रसाद, महानिदेशालय के पुलिस महानिरीक्षक (परिचालन) जुल्फिकार हसन, छत्तीसगढ़ सेक्टर के महानिरीक्षक सदानंद दाते सहित बल के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। ज्ञातव्य है कि राज्य में वर्ष 2003 से दुर्गम एवं अति संवेदनशील क्षेत्रों में सीआरपीएफ के अधिकारी एवं जवान बड़ी संख्या में तैनात हैं और उनके द्वारा नक्सलियों के खिलाफ परिचालनिक अभियान चलाया जा रहा है। 

danik bhaskar