danik bhaskar
Wednesday, 29 March, 2017
Updated

रायपुर : छत्तीसगढ़ सरकार ने आक्जिलरी नर्सिंग मिडवाइफरी(एएनएम) पर एक बड़ा फैसला लिया है। सरकार अगले सत्र से यह कोर्स बंद करने जा रही है। इस एक फैसले से 14 सरकारी और 80 निजी एएनएम प्रशिक्षण संस्थानों में ताला जड़ जाएगा। इस सत्र से ही 14 सरकारी कालेजों में से 5 कॉलेजों में ताला लग गया है, जबकि शेष 9 संस्थान समेत 80 निजी संस्थानों में अगले सत्र से प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

सरकार ने कहा है कि सत्र 2016-17 से समस्त एएनएम पाठ्यक्रम में प्रवेश न दें। जानकारी के मुताबिक 14 सरकारी संस्थानों में से 5 को भारतीय नर्सिंग काउंसिलिंग से सत्र 2015-16 में प्रवेश की मान्यता नहीं मिली है, इसलिए इन पर प्रवेश नहीं दिया गया।

वहीं 80 निजी संस्थानों में कुल एएनएम की 2,545 सीट हैं, जिनमें 50 फीसदी शासकीय नियतांत (स्टेट कोटा) की सीट है। इन पर शैक्षणिक सत्र 2015-16 में प्रवेश देने पर शासन ने रोक लगा दी है। वहीं 50 फीसदी मैनेजमेंट कोटा की सीट पर प्रवेश की अनुमति दे दी गई है।

पूर्व में शासन ने इन सीटों पर भी प्रवेश पर रोक लगा दी थी, लेकिन इसके पहले ही संचालकों द्वारा मैनेजमेंट कोटा की सीट पर दाखिले दे दिए गए थे। मैनेजमेंट कोटा में 1288 सीटें हैं, जिनके प्रवेश मान्य कर दिए गए हैं। शासन द्वारा यह निर्णय छात्रों के हित में लिया गया है।

danik bhaskar